समाचार विस्तार से | एसजेवीएन लिमिटेड
समाचार

एसजेवीएन द्वारा नगर राजभाषा कार्यान्वायन समिति, शिमला (कार्यालय-2) की बैठक का आयोजन

दिसम्बर 21, 2017

केंद्रीय सरकारी कार्यालयों, उपक्रमों एवं बैंकों में राजभाषा हिन्‍दी के प्रयोग को बढ़ाने के उद्देश्‍य से भारत सरकार द्वारा एसजेवीएन लिमिटेड के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक की अध्‍यक्षता में गठित नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति, शिमला (कार्यालय-2) की बैठक का आयोजन दिनांक 21 दिसंबर,2017 को एसजेवीएन लिमिटेड, शक्ति सदन, कारपोरेट कार्यालय परिसर, शनान, शिमला में किया गया। बैठक की अध्‍यक्षता नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति, शिमला (कार्यालय-2) के अध्‍यक्ष, श्री नन्‍द लाल शर्मा, अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक,एसजेवीएन लिमिटेडने की। इस अवसर पर निगम के मुख्‍य महाप्रबंधक (मानव संसाधन), श्री अमित कुमार मुखर्जी,वरि.अपर महाप्रबंधक (मानव संसाधन), श्री मुकुल तिरकीसहित श्रीमती मृदुला श्रीवास्‍तव वरि.प्रबंधक(राजभाषा) भी उपस्थित थी।

बैठक में उपस्थित मुख्‍य महाप्रबंधक (मानव संसाधन), श्री अमित कुमार मुखर्जी ने समिति के सदस्‍य कार्यालयाध्‍यक्षों का स्‍वागत करते हुएइस अवसर पर कहा कि राजभाषा कार्यान्‍वयन के क्षेत्र में सदस्‍य कार्यालयों द्वारा सराहनीय प्रयास किए गए हैं I तथापि, जहां कमी है, वहां अधिक प्रयास किए जाने की आवश्‍यकता है I

समिति की बैठक में शिमला स्थित केंद्रीय सरकारी कार्यालयों, उपक्रमों तथा बैंकों से 33 वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भाग लिया।

बैठक में केंद्रीय सरकारी कार्यालयों में हिंदी के प्रयोग की समीक्षा की गई तथा भारत सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्‍यों को प्राप्‍त करने की दिशा में विचार-विमर्श किया गया। इसके अतिरिक्‍त,बैठक में केंद्रीय सरकारी कार्यालयों, उपक्रमों एवं बैंकों के कार्मिकों के लिए पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी राजभाषा सेमिनार/संगोष्ठियों का आयोजन किए जाने संबंधी निर्णय लिया I समिति द्वाराविभिन्‍न हिंदी प्रतियोगिताओं का आयोजन किए जाने पर भी सहमति बनी । बैठक में उपस्थित सदस्‍य कार्यालयों के अध्‍यक्षों और अधिकारियों का परिचय करवाते हुए श्री तिरकी ने समिति की उपलब्धियों पर प्रकाश डाला I तत्‍पश्‍चातश्रीमती मृदुला श्रीवास्‍तव ने गत बैठक की अनुवर्ती कार्यवाई और वर्ष 2017 के दौरान नराकास (कार्यालय-2) के सदस्‍य कार्यालयों द्वारा आयोजित की गई प्रतियोगिताओं की जानकारी दी I

बैठक की अध्‍यक्षता करते हुए निगम के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्रीनन्‍द लाल शर्मा ने कहा किसरल हिन्‍दी में अधिक से अधिक सरकारी कार्य करने पर बल दिया जाना चाहिए। हिंदी में काम करना कठिन नहींहै, केवल निरंतर मॉनीटरिग की आवश्‍कता है। उन्‍होंने कहा कि सभी कार्यालय राजभाषा विभाग द्वारा निर्धारित लक्ष्‍यों को ध्‍यान में रखते हुए अपने स्‍तर पर वार्षिक कार्य योजना बनाकर लक्ष्‍य प्राप्‍त करें Iउन्‍होंने कहा कि हमें अनुवाद की भाषा से बचना होगा और अनुवाद किए गए शब्‍दों से नहीं, बल्कि सरल हिन्‍दी शब्‍दों के प्रयोग से हम हिन्‍दी भाषा को बढ़ावा देने का प्रयास करें I हम बेहतर हिन्‍दी का माहौल तैयार कर ही इस अभियान में सफलता प्राप्‍त कर सकते हैं I बैठक का समापन श्री मुकुल तिरकी,वरि. अपर महाप्रबंधक (मानव संसाधन) के धन्‍यवाद ज्ञापन के साथ हुआI
Go to Navigation